Fraud Alert fraudsters taking money from FASTag toll plaza know how

FASTag टोल प्लाजा से पैसे ले रहे / धोखाधड़ी अलर्ट धोखेबाज जानिए कैसे

Fraud Alert fraudsters taking money from FASTag toll plaza know how


FASTag : टोल प्लाजा पर लोगों को टोल चुकाने से पहले काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. इस समस्या से निजात पाने के लिए सरकार की ओर से FASTag की शुरुआत की गई थी। FASTag की मदद से टोल प्लाजा पर बिना रुके टोल टैक्स का भुगतान किया जा सकता है। ऐसे में वहां ज्यादा देर तक इंतजार करने की जरूरत नहीं है। हालांकि, अब जालसाजों की नजर फास्टैग खाते में पड़े पैसों पर है और वे उन्हें लूट भी रहे हैं।

नई प्रणाली शुरू की गई

 टोल संग्रह प्रणाली के कारण होने वाली समस्याओं को कम करने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा देश में इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली शुरू की गई थी। देश में इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम यानी FASTag योजना की शुरुआत साल 2014 में हुई थी। उसके बाद धीरे-धीरे इसका विस्तार किया गया।

सक्रिय धोखेबाज

FASTag को किसी भी आधिकारिक टैग जारीकर्ता या भाग लेने वाले बैंक से खरीदा जा सकता है। वहीं वाहनों पर FASTag लगाना पड़ता है ताकि जब वे टोल प्लाजा के सामने से गुजरते हैं तो वहां मौजूद स्कैनर उन्हें स्कैन करता है और खाते से पैसे कट जाते हैं, लेकिन अब जालसाज इतने सक्रिय हो गए हैं कि वे FASTag का पैसा भी निकाल रहे हैं।

सामने आया एक अलग मामला

दरअसल, कई ऐसी घटनाएं सामने आ चुकी हैं, जहां पीड़ितों ने फास्टैग में मौजूद पैसे को वापस लेने की बात कही है. लोग हैरान हैं कि उनके FASTag में मौजूद राशि बिना टोल पर जाए कैसे निकल गई. इसके बाद जब जांच की गई तो दूसरा मामला सामने आया। इससे जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है।

ऐसे होती है चोरी

इस वीडियो में देखा जा सकता है कि एक बच्चा कार साफ करने के बहाने कार के शीशे तक पहुंच जाता है. इसके बाद वह अपना हाथ पकड़कर कार के शीशे पर लगे FASTag की तरफ उल्टी दिशा में हाथ घुमाते हुए बार-बार हाथ घुमाने लगते हैं। ऐसे में देखने वालों को लगता है कि बच्चा कार की सफाई कर रहा है। हालांकि बच्चा कार की सफाई नहीं कर रहा है, लेकिन कार के शीशे पर FASTag को स्कैन करके आपके खाते से पैसे निकाल रहा है।

पैसा कटने लगता है

दरअसल, इस दौरान बच्चे ने हाथ में घड़ी जैसा गैजेट पहन रखा है। यह वास्तव में एक स्कैनर है। इस स्कैनर को जितनी बार आप FASTag पर घुमाते हैं, उतनी बार FASTag से पैसे कटने लगते हैं। इस स्कैनर में रकम भी फिक्स होती है, उसी हिसाब से पैसे कटने लगते हैं। वहीं जब तक पैसे काटने का मैसेज उस व्यक्ति के पास नहीं जाता तब तक वह बच्चा भी वहां से गाड़ी साफ कर चला जाता है. ऐसी घटनाओं से जालसाज लगातार लोगों की कमाई पर हाथ साफ कर रहे हैं.

1 Comments

Post a Comment
Previous Post Next Post